Select Concern:

डिटॉक्स वॉटर, शरीर को स्वस्थ और तरोताजा रखने का प्राकृतिक उपाय

कहा जाता है साफ़ मन में ईश्वर का वास होता है । मन को साफ़ और स्वस्थ रखने के लिए शरीर का साफ़ होना अति आवश्यक है। बदलते लाइफस्टाइल, बढ़ते प्रदूषण, तेल वाले मसालेदार भोजन से शरीर में अमा या टॉक्सिंस (Toxins) जमा होने लगते हैं। इन सभी कारणों से शरीर अंदरूनी रूप से अस्वस्थ होने लगता है, और इससे हम बाहरी रूप से भी अस्वस्थ महसूस करने लगते हैं, इसके परिणाम स्वरूप चेहरे पर दाग-धब्बे होने लगते है , वजन बढ़ने लगता है, थकावट महसूस होती है, शरीर में पानी की कमी  (Dehydration), के रूप में सामने आती है। शरीर से टॉक्सिंस को बाहर निकालने के लिए, आयुर्वेद में अनके चीजों के बारे में लिखा गया है। आधुनिक युग में हम इस को डिटॉक्स वॉटर (Detox Water) या डिटॉक्स ड्रिंक (detox Drink) कहते हैं। डिटॉक्स वॉटर एक बेहतरीन पेय है, जो फलों और सब्जियों को छोटे छोटे टुकड़ो में या फिर स्लाइस कर पानी में डाल दिया जाता है । डिटॉक्स पेय – शरीर में मौजूद टॉक्सिंस को बहार निकाल शरीर को स्वस्थ बनाये रखता है ।

डिटॉक्स वाटर क्या है?

डिटॉक्स वाटर उन फलों, सब्जियों और हर्ब्स को पानी में डालकर बनाया जाता है जिन में एंटीऑक्सीडेंट अधिक होते हैं।  

वैसे देखा जाये तो, डिटॉक्स वाटर मुख्य रूप से शरीर को हाइड्रेट रखने के लिए एक स्वादिष्ट पेय  के रूप में उपयोग में लाया जाता है। बहुत से लोगों को सादा पानी अरुचिकर लगता है, पानी में – फल, जड़ी-बूटियाँ या सब्जियाँ मिलाने से नॉर्मल पानी की तुलना में डिटॉक्स वाटर में न्यूट्रिएंट तत्व बढ़ते हैं, साथ-साथ पानी और भी स्वादिष्ट हो जाता है। पर्याप्त रूप से हाइड्रेटेड रहने से दैनिक शारीरिक कार्यों में सहायता मिलती है, त्वचा के स्वास्थ्य में सुधार होता है और पाचन में सहायता मिलती है।

डिटॉक्स वाटर कैसे तैयार किया जाता है ? 

  1. नींबू और पुदीना डिटॉक्स वॉटर

सामग्री:

  • 1 नींबू, पतले स्लाइस में कटा हुआ।
  • 10-12 ताजे पुदीने की पत्तियां।
  • 1 लीटर पानी।

निर्देश:

  1. एक जग में नींबू के स्लाइस और पुदीने की पत्तियां डालें।
  2.  जग में 1 लीटर  पानी डालें और धीरे धीरे पानी को हिलाएं ।
  3. पीने से पहले कम से कम 1-2 घंटे के लिए ढक के रख दें।

2. खीरा और नींबू डिटॉक्स वॉटर

सामग्री:

  • 1 खीरा, पतले स्लाइस में कटा हुआ।
  • 1 नींबू, पतले स्लाइस में कटा हुआ।
  • 1 लीटर पानी।

निर्देश:

  1. एक जग में खीरे और नींबू के स्लाइस डालें।
  2. जग में पानी भरें और धीरे धीरे पानी को हिलाएं ।
  3. पीने से पहले कम से कम 1-2 घंटे के लिए ढक के रख दें।

3. हल्दी और अदरक डिटॉक्स वॉटर

सामग्री:

  • 1 चम्मच पिसी हुई हल्दी या एक छोटा टुकड़ा ताजी हल्दी, पतले स्लाइस में कटी हुई।
  • 1 छोटा टुकड़ा ताजा अदरक, पतले स्लाइस में कटा हुआ।
  • 1 लीटर पानी ।

निर्देश:

  1. हल्दी और अदरक को पानी के जग में डालें।
  2. अच्छी तरह से हिलाएं और कुछ घंटों के लिए रेफ्रिजरेटर या फिर बाहर ढक के रख दें।
  3. पीने से पहले फिर से हिलाएं ताकि हल्दी अच्छी तरह मिल जाए।

डिटॉक्स वॉटर पीने के फायदे:

डिटॉक्स वॉटर पीने के कई फायदे होते हैं जैसे कि,

1.डिटॉक्स वॉटर आप के शरीर में इलेक्ट्रोलाइट संतुलन बनाएं  रखते हैं।

2. डिटॉक्स वॉटर ब्लड शुगर के स्तर को नियंत्रित रखना में लाभकारी है।

3. वजन घटाने में डिटॉक्स वॉटर असरदार है। 

4. डिटॉक्स वॉटर मेटाबॉलिज्म को बढ़ावा देता है।

5.  डिटॉक्स वॉटर शरीर के एनर्जी लेवल को बनाएं रखता है,जिस से बार-बार थकावट महसूस नहीं होती है। 

6. डिटॉक्स वॉटर से  पाचन (Digestion) भी बेहतर हो जाता है।  

7. डिटॉक्स वॉटर शरीर को लंबे समय तक हाइड्रेटेड रखता है जिससे शरीर में पानी की कमी नहीं होती है।

निष्कर्ष: 

समग्र स्वास्थ्य और कल्याण के लिए शरीर को टॉक्सिंस से मुक्त रखना बेहद महत्वपूर्ण है। डिटॉक्स वॉटर एक सरल, सुलभ और प्राकृतिक तरीका है, जो शरीर को हाइड्रेटेड रखते हुए अंदरूनी शुद्धता प्रदान करता है। यह न केवल शरीर के विषाक्त पदार्थों को बाहर निकालने में मदद करता है, बल्कि विभिन्न स्वास्थ्य लाभ भी प्रदान करता है जैसे कि वजन घटाने, पाचन सुधार, ऊर्जा स्तर को बनाएं  रखना और त्वचा की सेहत को सुधारना। नियमित रूप से डिटॉक्स वॉटर का सेवन करने से आप अपने शरीर को तरोताजा और स्वस्थ महसूस कर सकते हैं। इसलिए, इसे अपनी दिनचर्या में शामिल करें और स्वस्थ जीवन की ओर एक कदम बढ़ाएं। 

Leave a Reply

Your email address will not be published.